Hindi Edition

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा पिछली सरकारों ने सल्तनतों की तरह शासन किया

ओडिशा । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओडिशा में आज कई परियोजना का उद्घाटन किया। बौध जिले में नीलमाधव और सिद्धेश्वर मंदिर के नवीनीकरण एवं जीर्णोद्धार संबंधी कार्यों का उद्घाटन किया।

साथ ही उन्होंने 115 करोड़ रुपए की लागत से तैयार बलांगीर-बिछुपाली रेलवे लाइन और सोनपुर में 15.81 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली, केंद्रीय विद्यालय की स्थायी इमारत के लिए आधारशिला रखी । इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ओड़िशा में बलांगीर-बिछुपाली मार्ग पर नई ट्रेन को हरी झंडी दिखाई।

लोगों को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को केंद्र की पिछली सरकारों पर ‘सल्तनत’ की तरह शासन करने और देश की समृद्ध विरासत की उपेक्षा करने का आरोप लगाया।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि उनके नेतृत्व वाली सरकार देश की समृद्ध सांस्कृतिक विरासत को संरक्षित रखने के लिए ही नहीं, बल्कि प्राचीन पहचान को आधुनिकता के साथ जोड़ने के लिए भी प्रतिबद्ध है।

मोदी ने पश्चिमी ओडिशा में स्थित बलांगीर में भाजपा की एक रैली में कहा, ‘पिछली सरकारों ने सल्तनतों की तरह शासन किया और हमारी समृद्ध विरासत की उपेक्षा की। उन्होंने हमारी गौरवशाली सभ्यता की उपेक्षा की और उसके संरक्षण पर ध्यान नहीं दिया।’

प्रधानमंत्री ने कहा कि योग भारत की प्राचीन संपत्ति है लेकिन कुछ लोग इसे समझे बिना अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का विरोध कर रहे हैं। उन्होंने दावा किया कि पूर्व में अमूल्य प्राचीन कलाकृतियां एवं प्रतिमाएं चुराई गईं और उन्हें देश से बाहर ले जाया गया। 

उन्होंने कहा कि उनकी सरकार कीमती प्रतिमाओं को विदेश से वापस लाने के लिए ठोस कदम उठा रही है। मोदी ने कहा, ‘पिछले चार वर्षों में ऐसी कई प्रतिमाएं वापस लाई गई हैं।’ प्रधानमंत्री मोदी ने रैली को संबोधित करने से पहले ओडिशा में 1,550 करोड़ रुपए की परियोजनाओं का उद्धाटन किया।

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को ओडिशा जाने से पहले संक्षिप्त प्रवास पर रायपुर विमानतल पहुंचे जहां मुख्यमंत्री और पूर्व मुख्यमंत्री ने उनका स्वागत किया।

राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों ने आज यहां बताया किे प्रधानमंत्री मोदी नई दिल्ली से ओडिशा जाने के दौरान विशेष विमान से सुबह राजधानी रायपुर के माना स्थित स्वामी विवेकानंद विमानतल पहुंचे और संक्षिप्त प्रवास के बाद वायु सेना के हेलीकॉप्टर से ओडिशा के बोलांगीर जिला के लिए रवाना हुए।

अधिकारियों ने बताया कि विमानतल पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह, भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ठ नेता और वरिष्ठ अधिकारियों ने उनका पुष्पगुच्छ भेंट कर स्वागत किया।

प्रधानमंत्री से मुलाकात के बाद मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने संवाददाताओं को बताया कि मोदी से उनकी गर्मजोशी से मुलाकात हुई तथा प्रधानमंत्री ने उन्हें बधाई भी दी। मुख्यमंत्री बनने के बाद बघेल की प्रधानमंत्री मोदी से यह पहली मुलाकात थी। वरिष्ठ अधिकारियों ने बताया कि प्रधानमंत्री दोपहर बाद हेलीकॉप्टर से रायपुर आकर यहां से विशेष विमान द्वारा त्रिवेन्द्रम (केरल) के लिए रवाना होंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading...