Hindi Edition

भाजपा नेता जौली ने इटली कोरोनावयरस में फॅसे भारतीय छात्रों की वापसी के लिए पीएम मोदी से की गुहार

नई दिल्ली । वरिष्ठ भाजपा नेता डाॅ विजय जौली ने आज प्रधानमंत्री मोदी को पत्र लिखकर, इटली कोरोनावायरस में फॅसे भारतीय छात्रों को तुरन्त स्वदेश लाने की गुहार की।

ज्ञात रहे इटली में 600 से अधिक कोरोनावयरस से मौते हो चुकी हैं। तथा 12 हजार इटली के नागरिक इस बीमारी से ग्रसित हैं। इटली की स्वास्थ्य सेवाएं लगभग अस्त-व्यस्त हो चुकी हैं। तथा इटली के विभिन्न शहरों में पढ़ने वाले भारतीय छात्र भय के वातावरण में जी रहे हैं।

कल दूरभाष द्वारा भारतीय छात्रा कु निधि शर्मा ने भाजपा पूर्व विदेश विभाग संयोजक डाॅ विजय जौली को बताया कि इटली के मिलान शहर से एयर इण्डिया उड़ान संख्या-138 द्वारा 10 मार्च 2020 को लगभग 100 से अधिक भारतीय छात्रों को भारत के लिए जहाज में बैठने नहीं दिया गया।

क्योंकि उनके पास कोरोनावायरस से ग्रसित न होने का कोई भी मेडिकल प्रमाण पत्र नहीं था। और इटली की कूव्यवस्था में ऐसे किसी भी प्रमाण पत्र को पाना आज की तिथि में भारतीय छात्रों के लिए असंभव है।

ईमेल द्वारा भारतीय छात्रों की व्यथा भारत के विदेश मंत्री को भेजी गई है। तथा आज भाजपा वरिष्ठ नेता डाॅ विजय जौली ने न केवल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी अपितु विदेश मंत्री डाॅ एस जयशंकर, स्वास्थ्य मंत्री डाॅ. हर्ष वर्धन तथा नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी को इटली से भारतीय छात्रों को तुरन्त हवाई जहाज द्वारा भारत लाने की गुहार की।

इसके साथ ही डाॅ जौली ने कहा कि यदि कोई भारतीय छात्र इस बीमारी से ग्रसित हो तो भी उसे भारतीय सरकार सुरक्षित ढंग से भारत लाये। तथा भारत में उसका इलाज करा उसकी जान को बचाने के लिए प्रभावी कदम उठाए। न की बीमारों को मरने के लिए इटली में छोड़ दिया जाए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Loading...